असम में बाढ़ का कहर, थम नहीं रहा मौतों का सिलसिला, अबतक 36 लोगों की गई जान

Spread the love

गुवाहाटी: असम (Assam) में बाढ़ (Flood) से मरने वालों की संख्या बढ़कर 36 हो गई है और करीब 54 लाख लोग विस्थापित हुए हैं. राज्य के 33 में से 28 जिले अब भी भीषण बाढ़ की चपेट में हैं, हालांकि शिवसागर में जलस्तर में कुछ कमी आई है. काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान और पोबितोरा वन्यजीव अभयारण्य पानी में डूबे हुए हैं. ब्रह्मपुत्र और इसकी सहायक नदियां गुवाहाटी समेत कई स्थानों में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है.

असम में आई बाढ़ की तस्वीर
असम में आई बाढ़ की तस्वीर

गुरुवार को हुई 9 लोगों की मौत
असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) के अनुसार, धेमाजी, लखीमपुर, विश्वनाथ, सोनितपुर, दरांग, उदालगिरी, बक्सा, बारपेटा, नलबाड़ी, चिरांग, बोंगाईगांव, कोकराझार, धुब्री समेत 28 जिलों में 53,52,107 लोग प्रभावित हुए हैं. एएसडीएमए ने बताया कि गुरुवार को नौ और लोगों की मौत की खबर मिली है. इनमें से तीन लोगों की मौत मोरीगांव, दो की विश्ववनाथ और एक-एक व्यक्ति की मौत सोनितपुर, उदालगिरी, बोंगाईगांव और बारपेटा जिलों में हुई.

असम में आई बाढ़ की तस्वीर
असम में आई बाढ़ की तस्वीर

बारपेटा सबसे ज्यादा प्रभावित
बाढ़ का सबसे अधिक प्रभाव बारपेटा जिले में हुआ है, जहां 13.48 लाख लोग प्रभावित हुए हैं. इसके अलावा पूरे राज्य में चार हजार घरों को नुकसान हुआ है. 130 मवेशी बह गए हैं और छोटे बड़े 25 लाख से अधिक पशु प्रभावित हुए हैं. 23 लाख कुक्कुट पालन पक्षी भी प्रभावित हैं.

असम में आई बाढ़ की तस्वीर
असम में आई बाढ़ की तस्वीर

2.26 लाख से अधिक विस्थापितों ने जिला प्रशासन द्वारा लगाए गए 1,080 राहत शिविरों और 689 राहत वितरण केन्द्रों में शरण लिये हुए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.