Tis Hazari Court

Tis Hazari Court Clash: ICU में भर्ती हुआ एक कॉन्स्टेबल, SHO को लगे 10 टांके, SIT करेगी पूरे मामले की जांच

Spread the love
  • ICU मे भर्ती है घटना में घायल हुआ एक कॉन्स्टेबल
  • बार एसोसिएशन ने हड़ताल करने का किया आह्वान

नई दिल्ली: शनिवार को दिल्ली (Delhi) के तीस हजारी कोर्ट (Tis Hazari Court) में वकीलों और पुलिस के बीच भयंकर हिंसक झड़प हुई. इस झड़प में करीब 20 पुलिसवाले घायल हो गए हैं. एक कॉन्स्टेबल को गंभीर चोटें आई हैं, जिसके बाद उसे आईसीयू (ICU) में भर्ती कराया गया है, जबकि दिल्ली कोतवाली के SHO को करीब 10 टांके लगे हैं. इस पूरे मामले की जांच SIT को सौंपी गई है.

वकीलों ने पुलिस पर बदसलूकी और गोली चलाने का आरोप लगाया है. वकीलों के मुताबिक, झड़प में उनके चार साथी घायल हुए हैं. इनमें एक पुलिस की गोलीबारी में घायल वकील भी शामिल है. पुलिस की तरफ से बयान दिया गया है कि अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (उत्तरी जिला) हरिंदर कुमार और पुलिस उपायुक्त (उत्तरी) के ऑपरेटर भी इस घटना में घायल हुए हैं.

बार एसोसिएशन (Bar Association) ने इस घटना की निंदा की है. एसोसिएशन ने 4 नवंबर को दिल्ली की सभी जिला अदालतों में एक दिवसीय हड़ताल करने का फैसला किया है.

क्यों शुरू हुई हिंसा?
इस पूरे विवाद की शुरुआत कोर्ट के लॉकअप से हुई. यहां थर्ड बटालियन के पुलिसकर्मी ने एक वकील को अंदर जाने से रोका, जिसके बाद दोनों के बीच कहासुनी होने लगी. कहासुनी बढ़ते-बढ़ते मारपीट पर आ गई और पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी. गुस्साए वकीलों ने पुलिस की कई गाड़ियों में आग लगा दी और कुछ की पिटाई भी कर दी. पुलिसवालों ने बचने के लिए खुद को कोर्ट के लॉकअप में बंद कर लिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.